हरिद्वार | नगर में कल गुरुवार यानी 11 फरवरी को होने वाले मौनी अमावस्या स्नान के लिए हरिद्वार पुलिस और प्रशासन ने कमर कस ली है। कुंभ मेले के पहले इस फरवरी माह में तीन प्रमुख स्नान पर्व पड़ने हैं, जिसमें 11 फरवरी को मौनी अमावस्या, 16 फरवरी को बसंत पंचमी और 27 फरवरी को माघ पूर्णिमा का स्नान होना है।

11 फरवरी को पड़ने वाले मौनी अमावस्या स्नान के लिए आज यहां के भल्ला कॉलेज स्टेडियम में सभी पुलिस अधिकारियों, कर्मचारियों और सुरक्षा में लगे अर्धसैनिक बलों को ब्रीफ किया गया। इस मौके पर कुंभ मेला आईजी संजय गुंज्याल के अलावा हरिद्वार के डीएम, एसएसपी, कुम्भ एसएसपी जन्मेजय खण्डूरी समेत बड़ी संख्या में अधिकारी शामिल हुए।

कुंभ मेले के पहले पड़ने वाले इन सभी स्नान पर्व पर हरिद्वार में कोविड-19 रिपोर्ट लाना अनिवार्य नहीं होगा। केवल कुंभ मेले पर ही कोविड-19 रिपोर्ट लाना आवश्यक होगा – यह कहना है कुंभ मेला आईजी संजय गुंज्याल का।

कल पड़ने वाले मौनी अमावस्या स्नान के लिए पूरे मेला क्षेत्र को 09 जोन और 25 सेक्टर में बांटा गया है। मेला आईजी के अनुसार मकर संक्रांति स्नान की तरह इस स्नान पर्व पर भी यातायात को भीड़ के अनुसार डायवर्ट किया जाएगा। मौनी अमावस्या के स्नान पर्व पर हरकी पैड़ी पर भीड़ का दबाव कम करने के लिए लगातार मॉनिटरिंग की जाएगी। जिससे एक ही स्थान पर अधिक श्रद्धालु एकत्र ना हो सके।

Leave a Reply