भारत में टीकाकरण ने पकड़ी गति, एक हफ्ते में 16 लाख लोगों को लगा टीका

स्वास्थ्य मंत्रालय के मुताबिक, अकेले शनिवार को 3,512 सत्रों में 1.91 लाख लोगों को वैक्सीन दी गई।

नई दिल्ली । भारत में जानलेवा महामारी कोरोना की की रोकथाम के लिए विश्व का सबसे बड़ा कोरोना टीकाकरण अभियान शुरू हो गया है। देश में टीकाकरण की अभियान शुरुआत 16 जनवरी को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने की थी ।

धीमी गति से शुरू हुआ टीकाकरण अभियान अब तेजी पकड़ने लगा है। 16 जनवरी से अब तक (23 जनवरी तक) 27,920 सेशन में 15.82 लाख लोगों को कोरोनावायरस वैक्सीन लगाई गई है। स्वास्थ्य मंत्रालय के मुताबिक, अकेले शनिवार को 3,512 सत्रों में 1.91 लाख लोगों को वैक्सीन दी गई। सरकार ने कहा कि कुल 1,283 लोगों में अब तक प्रतिकूल असर दिखने की घटना समाने आई है, जो कि कुल टीकाकरण का महज 0.08 प्रतिशत है। सिर्फ 11 लोगों यानी 0.0007 प्रतिशत लोगों को वैक्सीन लगने के बाद अस्पाताल में भर्ती करना पड़ा।

केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय ने कहा कि टीका लगने के बाद अब तक कुल 6 लोगों की मौत हुई है। अब तक हुई किसी भी मौत का टीकाकरण से कोई संबंध नहीं पाया गया है। पहले हफ्ते में सुस्त शुरुआत के बाद, भारत में टीकाकरण की संख्या धीरे-धीरे बढ़ रही है। सातवें दिन तक करीब 3.5 लाख स्वास्थ्य कर्मियों को वैक्सीन लगाई जा चुकी है। कोरोना वैक्सीन के लिए खासतौर पर तैयार किए गए को-विन के डेटाबेस में बदलाव करने से वाक-इन वैक्सीनेशन की अनुमति मिलने से संख्या में वृद्धि हुई है। उदाहरण के लिए, ऐसे स्वास्थ्यकर्मी, जो कि एक निश्चित तारीख पर नहीं आए, वे भी आकर वैक्सीन लगवा सकते हैं। दिल्ली में 23 जनवरी को कुल 6,957 लोगों को टीके लगे। 23 जनवरी को टीके का लक्ष्य 8100 था। लक्ष्य के 86 प्रतिशत लोगों को टीके लगाए गए। दिल्ली सरकार के चार बड़े अस्पतालों में 100 फीसदी टीकाकरण हुआ।

Leave a Reply

ये भी पढ़ें