उत्तराखंड में अगले 72 घंटे का मौसम अलर्ट

मौसम विभाग के मुताबिक़ उत्तराखंड के उत्तरकाशी, बागेश्वर, पिथौरागढ़, रुद्रपयाग और चमोली जैसे पहाड़ी जिलों में भारी वर्षा होने की संभावना जतायी है।

 

देहरादून: मानसून का कहर पूरे उत्तराखंड में कहर बरपा रहा है। मैदानों से लेकर पहाड़ों तक मूसलाधार बारिश ने अपना तांडव मचाया हुआ है। भारी बारिश के चलते कई जगह मार्ग बंद पड़े है तो कई जगहों पर भूस्खलन से तबाही मची हुई है जिससे लोगों को जान-माल का काफी नुक्सान हो रहा है। ऐसे में मौसम विभाग ने अगले 72 घंटे का अलर्ट जारी कर लोगो को सतर्क किया है।

उत्तराखंड में लगातार आसमानी कहर बरस रहा है जिससे यहां के लोगों को भारी नुक्सान उठाना पड़ रहा है। बात अगर पहाड़ों की करें तो यहां पर जगह-जगह भूस्ख्लन हो रहा है जिससे राष्ट्रीय राजमार्ग सहित अनेक सड़कें बंद हो रही है। गढ़वाल मंडल के बद्रीनाथ-केदारनाथ मार्ग पहाड़ियों से आने वाले मलबे के चलते कई जगह बंद पड़े हैं जिससे यात्रा ठप्प हो गयी है।

वहीं कुमाऊँ में कई जगह भारी बारिश ने खेतों को तबाह कर दिया है। पिथौरागढ़ में भी बादल फटने से कई लोगों की मौत हो गयी है तो कई लापता हैं। इसके अलावा मैदानों में भारी बारिश के चलते बाढ़ जैसे हालात बने हैं। बारिश का पानी लोगों के घरों में घुस कर तबाही मचा रहा है।

हालात के चलते मौसम विभाग ने अगले तीन दिन अधिकतर जिलों में भारी बारिश की चेतावनी जारी की है।

लागातर बरस रही आसमानी आफत के बीच मौसम विभाग की अगले दो से तीन दिन भारी बारिश की चेतावनी से उत्तराखंड के लोगो की मुश्किलें और बढ़ सकती हैं। मौसम विभाग की मानें तो अगले तीन दिन प्रदेश के लिए भारी हो सकते हैं और लोगो को सतर्क रहने की ज़रूरत है।

मौसम विभाग के मुताबिक़ उत्तराखंड के उत्तरकाशी, बागेश्वर, पिथौरागढ़, रुद्रपयाग और चमोली जैसे पहाड़ी जिलों में भारी वर्षा होने की संभावना जतायी है। इस बारिश की वजह से नदी और नाले उफान पर रहेंगे जिससे भूस्ख्लन का खतरा बढ़ जायेगा जिसके लिए लोगो को सतर्क रहने की जरूरत है। इस अलर्ट की सूचना प्रशासन को भी दी गयी है जिससे वो अलर्ट रहे।

Leave a Reply

ये भी पढ़ें