पौड़ी में बेजुबानों के लिए आगे आये युवा

हालातों को कड़ी चुनौती देते हुए पौड़ी के कुछ युवाओं ने मिलकर पशुओं की प्यास बुझाने के लिए विभिन्न स्थानों में छोटे-छोटे पानी के ड्रम लगाये हैं।

ख़ास बात:

  • क्योंकि प्यास इन्हें भी लगती है
  • पौड़ी में लॉकडाउन में प्यास से परेशान बेजुबान
  • बेजुबानों के लिए पानी का इंतजाम कर रहे युवा
  • शहर में लगा रहे पानी के ड्रम

पौड़ी: लॉक डाउन होने के बाद जगह-जगह पशुओं के समक्ष भोजन का संकट शुरू हो गया था। पौड़ी में यूँ तो पशुपालन विभाग की ओर से सभी जानवरों के लिए भोजन व्यवस्था की गई थी लेकिन बढ़ रही गर्मी को देखते हुए प्रशासन की ओर से पशुओं के लिए पानी की कोई व्यवस्था नहीं हो पाई है।

लेकिन हालातों को कड़ी चुनौती देते हुए पौड़ी के कुछ युवाओं ने मिलकर बेजुबान पशुओं की प्यास बुझाने के लिए एक छोटी सी पहल की है जिसमें युवाओं ने मिलकर विभिन्न स्थानों में छोटे-छोटे पानी के ड्रम लगाये हैं। सभी पशु यहां आकर अपनी प्यास बुझा रहे हैं। युवा पौड़ी के लोगों से इन ड्रमों में पानी भरने का आग्रह भी कर रहे हैं ताकि इन सभी पशुओं की प्यास बुझ सके।

देखा जा रहा है कि तापमान लगातार बढ़ने पर है और बढ़ते पारे को देखते हुए बेजुबान पशुओं को प्यास लगना भी स्वाभाविक है। पौड़ी के युवा आभास कठैत ने बताया कि लॉक डाउन होने के बाद उनके पड़ोस में बहुत से ऐसे पशु थे जो रोजाना प्रशासन की ओर से दिए जा रहे भूसे को ग्रहण करने तो आते थे लेकिन पानी के लिए उनकी कोई व्यवस्था नहीं थी। उन्होंने अपने पड़ोस से इसकी शुरूआत की और धीमे-धीमे पूरे शहर में सात से आठ ड्रम लगाए हैं।

Leave a Reply

ये भी पढ़ें