पौड़ी | उत्तराखंड प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड की पहल पर प्रदेश में पर्यावरण योजना बनाए जाने की कवायद तेजी से चल रही है। जीबी पंत राष्ट्रीय हिमालयी पर्यावरण संस्थान अल्मोड़ा प्रदेश की पर्यावरण योजना को तैयार करने में जुटा है।

जलवायु परिवर्तन केंद्र के वैज्ञानिक डॉo जे सी कुनियाल ने कहा कि उत्तराखंड की समग्र पर्यावरण योजना एक वर्ष के भीतर तैयार हो जाएगी। संस्थान की टीम 14 बिन्दुओं को केंद्र में रखकर योजना तैयार करने में जुटी है। प्रभारी जिलाधिकारी आशीष भटगाई ने अधिकारियों को एक माह के भीतर रिपोर्ट तैयार करने के निर्देश दिए हैं।

डीएम ने अधिकारियों को रिपोर्ट देने में हीलाहवाली करने पर कड़ी कार्रवाई की चेतावनी भी दी है। आज नगर पालिका सभागार पौड़ी में जिला पर्यावरण योजना की तैयारी पर बैठक का आयोजन किया गया।

इस मौके पर जीबी पंत राष्ट्रीय हिमालयी पर्यावरण संस्थान के वैज्ञानिक डॉo जे सी कुनियाल ने कहा कि उत्तराखंड की पर्यावरण योजना को तैयार किए जाने के लिए सामूहिक प्रयास की आवश्यकता है जिसके लिए प्रयास तेज कर दिए गए हैं। उन्होंने कहा कि शहरी व ग्रामीण क्षेत्रों में ठोस एवं तरल अपशिष्ट प्रबंधन, बायो मेडिकल वेस्ट, वायु व ध्वनि प्रदूषण का स्तर, खनन की स्थिति, प्लास्टिक के उपयोग सहित 14 बिन्दुओं पर काम किया जा रहा है। जिला स्तर पर रिपोर्ट तैयार किए जाने के बाद प्रदेश स्तर पर समग्र पर्यावरण योजना तैयार की जाएगी।

Leave a Reply