मुख्यमंत्री रावत ने गैरसैंण पर जताई ख़ुशी – बताया मील का पत्थर

गैरसैंण को प्रदेश की ग्रीष्मकालीन राजधानी घोषित किए जाने पर मुख्यमंत्री त्रिवेन्द्र सिंह रावत ने कहा कि भराड़ीसैण को आदर्श पर्वतीय राजधानी का रूप दिया जाएगा।

गैरसैंण: भराड़ीसैण (गैरसैंण) को प्रदेश की ग्रीष्मकालीन राजधानी घोषित किए जाने की अधिसूचना जारी होने पर मुख्यमंत्री त्रिवेन्द्र सिंह रावत ने इस पर खुशी व्यक्त करते हुए कहा कि भराड़ीसैण को आदर्श पर्वतीय राजधानी का रूप दिया जाएगा। आने वाले समय में भराड़ीसैण सबसे सुन्दर राजधानी के रूप में अपनी पहचान बनाएगी। भराड़ीसैण (गैरसैंण) को ग्रीष्मकालीन राजधानी बनाने के लिए 4 मार्च 2020 को की गई घोषणा सवा करोड़ उत्तराखंडवासियों की भावनाओं का सम्मान है।

मुख्यमंत्री ने कहा कि – “सवा करोड़ उत्तराखंडवासियों की भावनाओं का सम्मान करते हुए मुझे बेहद खुशी हो रही है कि आज भराड़ीसैंण (गैरसैंण) को ग्रीष्मकालीन राजधानी घोषित किए जाने की अधिसूचना जारी कर दी गई है। राज्य आंदोलनकारियों, मातृशक्ति व शहीदों के सपनों को साकार करने की दिशा में यह मील का पत्थर साबित होगा।”

विधानसभा अध्यक्ष प्रेम चंद अग्रवाल ने भी इस मौके पर प्रदेश वासियों को बधाई दी और राज्यपाल को धन्यवाद दिया। अग्रवाल ने कहा कि में खुद राज्य आंदोलनकारी रहा हूँ ओर शुरू से पहाड़ी प्रदेश की राजधानी पहाड़ में होने के पक्ष में रहा हूँ।

Leave a Reply

ये भी पढ़ें