सोशल मीडिया पर फेक न्यूज़

महिला आरक्षी दमयंती नेगी जुटी साइबर क्राइम से लड़ने में

दमयंती अपने दो छोटे बच्चों को घर पर अकेला छोड़ पूरी मुस्तैदी के साथ लोगों को साइबर क्राइम व अफवाह से बचाने मे जुटी है। दमयंती वर्ष 2012 में पुलिस में भर्ती हुई थी।

ट्रेंड हो रहा #PrayForUttarakhand: जी नहीं, ये फेक न्यूज़ है!

फारेस्ट डिपार्टमेंट ने भी आनन फानन में इसका खंडन किया और बताया कि उत्तराखंड में इस बार फायर सीजन में पहले के मुकाबले कहीं बेहतर स्थिति है और सब अंडर कंट्रोल है।

पौड़ी: सचेत रहें, भ्रामक पोस्ट डालने पर होगी कार्रवाई

ऐसी सूचनाएं मिल रही थी जिसमें प्रवासियों द्वारा अनावश्यक ही ग्राम प्रधानों को सोशल मीडिया के माध्यम से अनावश्यक ही गलत बातें रखकर बदनाम किया जा रहा था।