युवा कांग्रेसियों का सांकेतिक धरना शुरू

यूथ कांग्रेस का कहना हैं कि हम लोग सरकार से मांग करते आ रहे हैं कि बच्चों की फीस, बिजली को बिल माफ कर श्रमिकों को रोजगार दिया जाए।

ख़ास बात:

  • युवा कांग्रेसियों का सांकेतिक धरना शुरू
  • महामारी से पीड़ित श्रमिकों की स्थिती सुधारने की मांग
  • बिजली पानी का बिल माफ करे सरकार
  • मनरेगा में श्रमिकों को मिले रोजगार
  • क्वारंटीन सेंटर्स की साफ सफाई पर सरकार दे ध्यान   

सितारगंज: सितारगंज क्षेत्र के गांव सिसइखेड़ा में यूथ कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष सुमित्र भुल्लर के आह्वान पर कार्यकर्ताओं ने सरकार के खिलाफ सांकेतिक धरना शुरू कर दिया है। धरने पर बैठे कांग्रेस युवा कार्यकर्ता सोशल डिस्टेंसिंग का पालन भी कर रहें हैं, यूथ कांग्रेस का कहना है कि हम लोग सरकार से मांग करते आ रहे हैं कि कोरोना जैसी महामारी के चलते बाहर से आये प्रवासियों को राहत पहुँचायी जाए।

साथ ही बच्चों की फीस बिजली को बिल माफ करने के साथ साथ श्रमिकों को मनरेगा के तहत रोजगार भी दिया जाए। जिसे अब तक पूरा नहीं किया गया है, वहीं युवा कांग्रेसियों का कहना है कि क्वारंटीन सेंटर्स की हालत भी ठीक नहीं है।

क्वारंटीन सेंटरर्स की साफ सफाई पर भी ध्यान नहीं दिया जा रहा है रेड जोन से आए प्रवासियों को बाकी जगह से आए प्रवासियों के साथ रखा जा रहा है जो कोरोना महामारी को बढावा देगा, इन्हीं सब मुद्दों को लेकर कांग्रेसी सांकेतिक धरना दे रहे हैं।

आज सरकार की स्थिति पूरी तरह से बिगड़ चुकी है, जिसे देखते हुए हमारी मांग है कि श्रमिको को साढ़े सात हजार न्याय राशि एक मुश्त 6 माह में सरकार दे। इसके बाद न्याय राशि एक मुश्त दस हजार श्रमिकों को सरकार दे।

साथ ही कम से कम 200 दिन मनरेगा में कार्य दिया जाए। कांग्रेस कार्य कर्ताओं का कहना है कि कोरोना महामारी में सक्रमण के बढते दौर में जो सरकार द्वारा क्वारंटीन सेंटर बनाये गए हैं  उसमें बाहर से आये प्रवासियों को भारी दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है।

सरकार प्रवासियों को खाना सही ढंग से उपलब्ध नहीं करा पा रही है और एक ही हेण्डपम्प से पानी सभी भरा जा रहा हैं , शौचालय भी एक ही यूज किए जा  रहे हैं, जिससे सक्रमण बढ़ने का खतरा बढ़ रहा है। सरकार की बिगड़ी व्यवस्था को लेकर यूथ कांग्रेस पूरे प्रदेश में आज सांकेतिक धरना देकर सरकार को जगाने का काम कर रही हैं।

Leave a Reply

ये भी पढ़ें