कोरोना मुक्त हुए सतपाल महाराज और अमृता रावत

उत्तराखंड के पर्यटन मंत्री सतपाल महाराज और उनकी धर्मपत्नी की कोरोना रिपोर्ट आज नेगेटिव आने से भाजपा कार्यकर्ताओं और उनके अनुयायियों में खुशी की लहर है।

सतपाल महाराज और अमृता रावत हुए कोरोना मुक्तदेहरादून: उत्तराखंड के पर्यटन मंत्री सतपाल महाराज और उनकी धर्मपत्नी अमृता रावत की कोरोना रिपोर्ट आज नेगेटिव आने से भाजपा कार्यकर्ताओं और उनके अनुयायियों में खुशी की जबरदस्त लहर है।

बीते दिनों कोरोना संक्रमण के चलते देश व्यापी लॉकडाउन के दौरान उत्तराखंड के पर्यटन, संस्कृति, धर्मस्व एवं सिंचाई मंत्री सतपाल महाराज, उनकी धर्मपत्नी पूर्व मंत्री अमृता रावत सहित उसके परिवार के सदस्यों पुत्र श्रद्धेय रावत, सुयश रावत, पुत्रवधु आराध्या रावत और राजकुमारी मोहिना सिंह कोरोना संक्रमित हो गये थे।

सतपाल महाराज और उनके परिवार के सदस्यों में संक्रमण की पुष्टि होने पर उन्हें तत्काल क्वारनटीन में रखा गया था। कुछ दिन पहले सतपाल महाराज के पुत्रों और पुत्रवधुओं को स्वस्थ होने पर अस्पताल से छुट्टी दे दी गई थी।

सतपाल महाराज और उनकी धर्मपत्नी श्रीमती अमृता रावत को लगभग 17 दिन एम्स में रखने के बाद कोरोना संक्रमण के कोई लक्षण न पाये जाने के पश्चात डाक्टरों ने उन्हें 14 दिन होम क्वारनटीन की सलाह देखकर घर भेज दिया था। जहाँ उनकी लगतार जांच के बाद आज उनकी कोरोना रिपोर्ट नेगेटिव पाई गई।

कोरोना रिपोर्ट नेगेटिव आने के बाद काबीना मंत्री सतपाल महाराज, उनकी धर्मपत्नी पूर्व मंत्री अमृता रावत और राजकुमारी मोहिना सिंह ने कहा कि भाजपा कार्यकर्ताओं व सभी शुभचिंतकों की शुभकामनाओं और प्रार्थना का ही परिणाम है कि उन्हें फिर से जनता की सेवा करने का अवसर प्राप्त होगा। सतपाल महाराज ने कोरोना संक्रमण के दौरान सहयोग देने के लिए राज्य सरकार, स्थानीय प्रशासन, चिकित्सकों और नर्सिंग स्टाफ का आभार व्यक्त करते हुए पूरे विश्व को इस वैश्विक महामारी से शीघ्र मुक्ति की कामना भी की। उन्होंने कोरोना को मात देने के लिए सभी से सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करने के साथ साथ मास्क और सैनेटाईज का प्रयोग करने की बात भी कही।

Leave a Reply

ये भी पढ़ें