पर्यटन में स्वरोज़गार की संभावनाओं को तलाशता पौड़ी

पौड़ी जिले के ग्रामीण क्षेत्रों में अब पर्यटन की सम्भावनाओं को तलाशा जा रहा है जिससे पहाड़ लौटे युवा पहाड़ों में ही स्वरोजगार दिया जा सके।

 

पौड़ी: पौड़ी जिले के ग्रामीण क्षेत्रों में अब पर्यटन की सम्भावनाओं को तलाशा जा रहा है जिससे पहाड़ लौटे युवा पहाड़ों में ही स्वरोजगार दिया जा सके। इसके लिये सरकारी की महत्वाकांक्षी योजना का लाभ लेकर पर्यटन क्षेत्र में स्वरोजगार से बड़ा बदलाव कर युवाओं को स्वरोजगार देने के प्रयास किये जा रहे हैं जिससे आत्मनिर्भर भारत की नींव ग्रामीण क्षेत्रों में भी डाली जा सके।

इसके लिए पर्यटन विभाग इन दिनों पौड़ी के ग्रामीण क्षेत्रों का मुआयना कर पर्यटन की उन सम्भावनाओं को तलाशने में जुटा है जिससे पहाड़ लौटे युवाओं को अच्छी खासी आमदनी पहाड़ में ठहराकर स्वरोजगार के जरिये दिलवाई जा सके।

इसके लिए ग्रामीण क्षेत्र के धार्मिक स्थलों का प्रचार-प्रसार कर पर्यटकों को इन क्षेत्रों में लाने और इन्हें ग्रामीण क्षेत्रों में ठहराने की व्यवस्थाओं पर जोर दिया जा रहा है जिसके लिए पर्यटन विभाग का इस बार अधिक फोकस ग्रामीण क्षेत्रों में ‘होम स्टे योजना’ को कायम करने पर है जिससे गांव के खाली मकानों को होम स्टे में तब्दील कर इसे स्वरोजगार का जरिया बनाने के लिए युवाओ और ग्रामीणों को प्रेरित किया जा रहा है।

इस योजना के अंतर्गत अधिकतम 10 लाख तक का अनुदान सरकार द्वारा दिया जा सकता है। अधिक संख्या में आवेदक स्वरोजगार योजना के भागीदार बने इसके लिए आवेदन करने और योजना का लाभ लेने की विस्तृत जानकारी ग्रामीण और युवाओं को दी जा रही है।

Leave a Reply

ये भी पढ़ें