पतंजलि ने लांच की कोरोनिल; कोरोना की पहली एविडेंस बेस्ड औषधि होने का दावा

पतंजलि आयुर्वेद ने लांच की कोरोना वायरस की पहली आयुर्वेदिक दवा कोरोनिल जिसे क्लीनिकल ट्रायल के बाद तैयार किया गया है।

 

हरिद्वार: वैश्विक महामारी कोरोना से निपटने में एक बार फिर योग गुरू बाबा रामदेव की पतंजलि योगपीठ ने बाजी मारी है। कोरोना से निपटने के लिए बाबा रामदेव ने ‘कोरोनिल’ नाम से एक औषधि तैयार की है।

बाबा रामदेव का दावा है कि इस औषधि के सेवन से महज एक सप्ताह में कोरोना ठीक हो जाता है। कोरोनिल नाम की इस दवा के साथ-साथ इम्युनिटी पावर बढ़ाने के लिए पतंजलि ने ‘दिव्य कोरोना किट’ बनाई है जिसमे कोरोनिल के अलावा श्वासारि वटी और दिव्य अणु तेल भी हैं। पतंजलि योगपीठ का दावा है कि अगले हफ्ते भर में पूरे देश भर में यह दवा उपलब्ध हो जाएगी।

पतंजलि योगपीठ और नेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ मेडिकल साइंस जयपुर के वैज्ञानिकों ने तीन माह की मेहनत और कड़े रिसर्च के बाद इस दवा को तैयार किया है और यह औषधि क्लीनिकली टेस्टेड एविडेन्स बेस्ड मेडिसिन है जिसका कोई भी दुष्प्रभाव नही है। आज पतंजलि योगपीठ में यह दवा लॉन्च की गई।

  • पतंजलि योगपीठ और एनआईएमएस ने किया रिसर्च
  • क्लीनिकल ट्रायल के बाद पतंजलि ने की दवा तैयार
  • क्लीनिकली टेस्ट एविडेन्स बेस्ड मेडिसिन ‘कोरोनिल’
  • दवा दिलाएगी 7-14 दिन के अंदर दिलाएगी कोरोना से निजात
  • संपूर्ण साइंटिफिक डॉक्यूमेंट के साथ श्वासारि वटी, कोरोनिल, कोरोना की एविडेंस बेस्ड पहली आयुर्वेदिक औषधि
  • रिसर्च संयुक्त रूप से पतंजलि रिसर्च इंस्टीट्यूट (पीआरआई) हरिद्वार व नेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ मेडिकल साइंस (NIMS) जयपुर द्वारा की गई
  • दवा का निर्माण दिव्य फार्मेसी, हरिद्वार और पतंजलि आयुर्वेद लिमिटेड, हरिद्वार के द्वारा किया जा रहा

Leave a Reply

ये भी पढ़ें