2024 तक चल पड़ेगी हरिद्वार-ऋषिकेश और देहरादून के बीच मेट्रो ट्रेन

मेट्रो प्रोजेक्ट की लागत 14,000 करोड़ होगी हालांकि इस प्रोजेक्ट को चरण बद्ध तरीके से धरातल पे उतारा जायेगा, जिसमें फर्स्ट फेज में हरिद्वार से ऋषिकेश का काम होगा।

ख़ास बात:

  • 14,000 करोड़ की होगी मेट्रो प्रोजेक्ट की लागत 
  • देहरादून में रोपवे की तैयारी पूरी, 2 साल में होगा काम पूरा
  • फर्स्ट फेज में होगा हरिद्वार से ऋषिकेश का काम
  • 20 स्टेशन, करीब डेढ़ किमी अंडरग्राउंड मार्ग फर्स्ट फेज में

देहरादून: प्रदेशवासियों के लिए के लिए अच्छी खबर है। उत्तराखंड सरकार ने आज मेट्रो को लेकर एक बड़ा फैसला लिया है। इस फैसले के चलते साल  2024 तक हरिद्वार और ऋषिकेश के बीच मेट्रो ट्रेन चल सकेगी। मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत की अध्यक्षता में यूनिफाइड मेट्रोपॉलिटन ट्रांसपोर्ट अथॉरिटी ने पहले चरण में हरिद्वार और ऋषिकेश, नेपाली फार्म से देहरादून तक मेट्रो की मंजूरी दे दी है।

मुख्यमंत्री की अध्यक्षता में आहूत हुई बैठक के बाद शासकीय प्रवक्ता मदन कौशिक ने जानकारी देते हुए कहा कि हरिद्वार से ऋषिकेश और नेपाली फार्म से देहरादून मेट्रो के प्रोजेक्ट पर आज उमटा (युनिफाइड मेट्रोपॉलिटन ट्रांसपोर्ट ॲथॉरिटी) के साथ मंथन कर फाइनल कर लिया गया है। इसके साथ ही देहरादून में रोपवे की पूरी तैयारी कर ली गई है।

मदन कौशिक के मुताबिक प्रदेश की जनता से जुड़े इस प्रोजेक्ट को 2024 तक पूरा करने का समय तय किया गया। सब कुछ ठीक रहा तो करीब दो साल में रोपवे का काम होगा जायेगा।

मदन कौशिक ने बताया कि मेट्रो प्रोजेक्ट की लागत 14,000 करोड़ होगी हालांकि इस प्रोजेक्ट को चरण बद्ध तरीके से धरातल पे उतारा जायेगा, जिसमें फर्स्ट फेज में हरिद्वार से ऋषिकेश का काम होगा। इस काम में 10,989 करोड़ की लागत बतायी गयी है।

इसमें 20 स्टेशन बनाए जायेंगे और करीब डेढ़ किलोमीटर अंडरग्राउंड मार्ग होगा। इसके अलावा इस मार्ग की दूरी 32.9 किलोमीटर होगी। अब देखना होगा कि वास्तव में सरकार द्वारा जब इस प्रोजेक्ट को धरातल पर उतारा जयेगा तो इससे वास्तव में जनता को कितना फायदा हो पायेगा।

Leave a Reply

ये भी पढ़ें