आग की वायरल खबर पर क्या बोले प्रमुख वन संरक्षक जयराज

प्रमुख वन संरक्षक जयराज ने इन ख़बरों को ग़लत ठहराते हुए बताया कि सोशल मीडिया पर भ्रामक प्रचार का तथ्यपरक और विनम्रता से खंडन किया जाए।

ख़ास बात:

  • उत्तराखंड के जंगलों में लगी आग की खबर वायरल
  • भ्रामक और सत्य से परे दुष्प्रचार: सीएम रावत
  • प्रमुख वन संरक्षक ने की फेक न्यूज़ से बचने की अपील
  • मुख्यमंत्री ने भी किया ख़बरों का खंडन

देहरादून: कोरोना संकट के बीच उत्तराखंड के जंगलों में लगी भीषण आग की खबरें सोशल मीडिया पर खूब वायरल हो रही हैं। इस खबर में ये दावा किया जा रहा है कि जंगल की 71 हेक्टेयर जमीन पूरी तरह से बर्बाद हो गई है। खबर को लेकर सीएम त्रिवेंद्र सिंह रावत ने दुख जताते हुए ऐसी खबरों को भ्रामक बताया है।

प्रमुख वन संरक्षक जयराज ने इन ख़बरों को ग़लत ठहराते हुए बताया कि राज्य मे स्थिति काफी बेहतर है। पिछले वर्ष के मुकाबले इस साल स्थिति बेहतर है और यह जरूरी है कि सोशल मीडिया पर भ्रामक प्रचार का तथ्यपरक और विनम्रता से खंडन किया जाए। उन्होंने जनता से अपील की है की वे वन विभाग की साईट पर तथ्य देख सकते हैं। साथ ही उन्होंने ये भी अपील की है की लोग सोशल मीडिया पर इन सनसनीखेज़ ख़बरों से भी बच कर रहे। इसके लिए मुख्य वन संरक्षक पराग मधुकर धकाते को सोशल मीडिया का प्रभारी बनाया गया है।

इस बीच डीजी लॉ एंड आर्डर ने भी इस सन्दर्भ में फेक न्यूज़ फैलाने वालों के खिलाफ कार्यवाही करने की चेतावनी जारी की है।

 

Leave a Reply