आकाशीय बिजली से नहीं घटा हर की पैड़ी पर हादसा – जानें क्या थी वजह

जांच कमेटी द्वारा की गई जांच की बुधवार देर रात आई रिपोर्ट के बाद यह साफ हो गया है कि बरसात के बाद पानी की रिसाव से हर की पैड़ी की दीवार गिरी थी।

 

हरिद्वार: मंगलवार सुबह तड़के भारी बारिश के बीच हर की पैड़ी पर गिरी दीवार गिरने का कारण स्पष्ट हो गया है। जांच कमेटी द्वारा की गई जांच की बुधवार देर रात आई रिपोर्ट के बाद यह साफ हो गया है कि बरसात के बाद पानी की रिसाव से हर की पैड़ी की दीवार गिरी थी।

आपको बता दें कि पहले आकाशीय बिजली गिरने को इस घटना का कारण बताया जा रहा था जबकि स्थानीय व्यापारियों और निवासियों का आरोप था कि अनियोजित तरीके से किये जा रहे निर्माण कार्य इस घटना का कारण है। बड़ी बात यह भी है कि कोरोनो काल होने के कारण हर की पैड़ी क्षेत्र को सील किया गया था अन्यथा इस घटना से कोई बड़ा हादसा भी हो सकता था।

मामले की गंभीरता को देखते हुए जिलाधिकारी द्वारा त्वरित कार्यवाई करते हुए तीन सदस्य जांच समिति गठित की गई थी। रिपोर्ट आने के बाद जिलाधिकारी सी. रविशंकर ने बताया कि भारी बारिश का पानी रिसकर हर की पैड़ी स्थित दीवार तक चला गया था जिससे यह दीवार ढह गई थी। टीम का मानना है कि संभवतः खुदाई में पानी रिसकर दीवार तक पहुंचा होगा।

जिलाधिकारी ने बताया कि टीम में लोक निर्माण विभाग, सिंचाई, जिला खनन व भू-वैज्ञानिक को शामिल किया गया था। टीम की रिपोर्ट में आकाशीय बिजली का उल्लेख नहीं है। जांच में टीम ने पाया कि दीवार आकाशीय बिजली से नहीं गिरी थी बल्कि पानी के रिसाव के कारण गिरी। जिलाधिकारी का कहना है कि भविष्य में संबंधित क्षेत्र में पानी की निकासी की समुचित व्यवस्था की जाएगी।

Leave a Reply

ये भी पढ़ें