हरिद्वार। बड़ी ख़बर

  • हर की पौड़ी पर बहने वाली गंगा की धारा को एस्केप चैनल बताने वाले शासनादेश को आखिरकार त्रिवेंद्र सिंह रावत सरकार ने किया रद्द।
  • लंबे समय से गंगा सभा के पदाधिकारी, तीर्थ पुरोहित और साधु-संत स्कैप चैनल शासनादेश को रद्द करने की कर रहे थे मांग।
  • 2016 में हरीश रावत सरकार ने हर की पैड़ी पर बहने वाली गंगा की धारा को एस्केप चैनल बताते हुए शासनादेश किया था जारी।
  • तभी से ही इस शासनादेश को रद्द करने की मांग गंगा सभा व अन्य धार्मिक संगठनों द्वारा उठाई जा रही थी।
  • 2017 में बनी भाजपा सरकार से लोगों को बहुत ज्यादा उम्मीद थी और तभी से ही सरकार पर  श्री गंगा सभा  दबाव बनाया जा रहा था।
  • देर से सही आज अखाड़ा परिषद के पदाधिकारियों एवं श्री गंगा सभा के पदाधिकारियों के सामने इस शासनादेश को वापस लेने की मुख्यमंत्री ने की घोषणा।
  • घोषणा के बाद तीर्थ पुरोहितों, साधु-संतों सहित करोड़ों गंगा प्रेमियों में खुशी की लहर।
  • तीर्थ पुरोहितो ने हर की पैड़ी पर किया दुग्धाभिषेक।
  • आतिशबाजी कर जताई खुशी। राज्य सरकार का जताया आभार। 

Leave a Reply

ये भी पढ़ें