पौड़ी | प्रदेश के मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत ने नयार घाटी स्थली से पहाड़ी महिलाओं के लिए एक महत्वपूर्ण घोषणा की। मुख्यमंत्री ने कहा कि उनकी सरकार आने वाले 3 सालों में पहाड़ में घर-घर पशुओं के लिए चारा उपलब्ध कराने की योजना शुरू कर रही है।

उन्होंने बताया कि घास लेने जाने वाली पहाड़ी महिलाओं को बहुत सी दिक्कतों का सामना करना पड़ता है जिसके लिए उनकी सरकार चिंतित है। उन्होंने बताया कि उन्होंने सभी अधिकारियों को आदेशित कर दिया है कि इस संबंध में जल्द से जल्द कार्य योजना तैयार की जाए। उन्होंने कहा कि जिस तरह से 30 किलो का गैस का सिलेंडर घर-घर पहुंचाया जा सकता है तो उसी तरह 30 किलो घास की पोटली भी घर-घर पहुंचाने के लिए उनकी सरकार वचनबद्ध है।

उन्होंने कहा कि वे जानते है कि पहाड़ों में घास लेने के लिए जाने वाली महिलाओं की कई बार पहाड़ से गिर कर मौत हो जाती है तो कई बार महिलाएं गंभीर रूप से घायल हो जाती है जिसको देखते हुए उनकी सरकार इस महत्वपूर्ण योजनाओं पर अब काम करने जा रही है उन्होंने आश्वस्त किया कि आने वाले 3 सालों में इस योजना को धरातल पर उतार दिया जाएगा।

Leave a Reply

ये भी पढ़ें