Newz Studio

ख़बर उत्तराखंड की

रुड़की | नकली नोट बनाने वाले गिरोह का पर्दाफाश

भगवानपुर थाना पुलिस ने नकली नोट बनाने वाले एक गिरोह का पर्दाफ़ाश करते हुए 3 आरोपियों को गिरफ्तार किया है।

 

 रुड़की |  रुड़की की भगवानपुर थाना पुलिस ने नकली नोट बनाने वाले एक गिरोह का पर्दाफ़ाश करते हुए 3 आरोपियों को गिरफ्तार किया है। जिनके पास से 27 हजार नौ सौ रुपये के नकली नोट बरामद हुए है। आरोपी कलर प्रिंटर के जरिये नकली नोट बनाते थे और देहात क्षेत्रो में चलाते थे। पुलिस पूछताछ में आरोपियों ने बताया कि यूट्यूब पर नकली नोट बनाने की विधि सीखकर उन्होंने एक काम को अंजाम दिया है। घटना का खुलासा रुड़की सिविल लाइन कोतवाली में सीओ मंगलौंर पंकज गैरोला ने किया।

आपको बता दे भगवानपुर थाना पुलिस को क्षेत्र में नकली नोट छापने की सूचना प्राप्त हो रही थी जिसपर हरिद्वार वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक द्वारा एसपी देहात व सीओ मंगलौंर समेत थानाध्यक्ष को निरोधात्मक कार्यवाही करने के आदेश दिए गए। जिसपर पुलिस की कई टीमों का गठन किया गया और तलाश शुरू कर दी। पुलिस टीम को सूचना मिली कि गिरोह नकली नोट किसी को देने के लिए सोलानी पुल महाकाल मंदिर के पास आए है।

जिलाधिकारी ने कोरोना का टीका लगवा दूसरे चरण की शुरुआत की

जिसपर पुलिस ने घेराबंदी करते हुए 3 आरोपियों को धरदबोचा। जिनके पास से करीब 27 हजार 9 सौ रुपये के नकली नोट बरामद हुए। घटना का खुलासा करते हुए सीओ मंगलौंर पंकज गैरोला ने बताया कि भगवानपुर थाना पुलिस ने नकली नोट बनाने वाले गिरोग का पर्दाफ़ाश किया है जिसमे मुख्य आरोपी संजय कुमार निवासी टकाभरी व सहयोगी सुरेश और अमरीश निवासी जनपद सहारनपुर को गिरफ्तार किया है। जिसके पास से एक कलर स्क्रेनर, प्रिंटर मशीन, पेपर कटर, 100 रुपये और 50 रुपये के नकली नोट बरामद हुए है। उन्होंने बताया आरोपी नकली नोट बनाकर देहात क्षेत्र में चलाते थे, जिसमे सहारनपुर और जनपद हरिद्वार में नकली नोट चलाए है।

उत्तराखंड में पूरे 10 महीने बाद कक्षा 6 से लेकर 12वीं तक के स्कूल खुले