हरिद्वार: धर्मनगरी में मठ-मंदिरों के साथ खुले दक्ष मंदिर के द्वार

दक्षेश्वर महादेव मंदिर में सबसे पहले प्रातः कालीन आरती की गई और भोलेनाथ के मंदिर को गंगा जल से धोया गया।

हरिद्वार: आज 77 दिन बाद हरिद्वार के मठ-मंदिर आम श्रद्धालुओं के लिए खोले गए। 22 मार्च से कोरोना संकट के कारण सभी मंदिर और मठ बंद कर दिए गए थे।

केंद्र सरकार के निर्देश के बाद आज मठ-मंदिर श्रद्धालुओं के दर्शनार्थ खोले गए परंतु श्रद्धालु बहुत कम संख्या में मंदिरों और गंगा घाटों पर दर्शनार्थ आए। जाहिर है कोरोना का भय अभी भी लोगों में व्याप्त है जिसके चलते लोग अभी खुल कर बाहर नहीं निकल रहे हैं।

हरिद्वार के कनखल स्थित शिव की ससुराल में प्राचीन दक्षेश्वर महादेव मंदिर, हर की पैड़ी, माया देवी मंदिर, शीतला माता मंदिर, तारा देवी मंदिर समेत विभिन्न मंदिर तथा कनखल सती घाट स्थित सिखों के तीसरे गुरु अमरदास जी का ऐतिहासिक गुरुद्वारा आम जनता के लिए खोला गया। इस अवसर पर अरदास भी की गई।

वहीं दक्षेश्वर महादेव मंदिर में सबसे पहले प्रातः कालीन आरती की गई और भोलेनाथ के मंदिर को गंगा जल से धोया गया। साथ ही मंदिरों में आने से पहले श्रद्धालुओं को गंगा स्नान करने के लिए कहा गया और थर्मल स्क्रेनिग के बाद उन्हें सैनिटाइज करवाया गया। दर्शनों के लिए हर श्रद्धालु को मास्क पहनकर मंदिर में आने की इजाजत दी गई और सामाजिक दूरी का पूरा ध्यान रखा गया।

इसके साथ ही एक बार में मंदिर के गर्भ गृह में दो-तीन से ज्यादा श्रद्धालुओं को दर्शन की इजाजत नहीं दी गई और केवल शिवलिंग पर गंगाजल चढ़ाने की अनुमति प्रदान की गई। सभी श्रद्धालु सामाजिक दूरी बनाए रखते हुए मुंह पर मास्क बांधकर मंदिर में आए। मंदिर के पुजारियों और महंतों ने भी मुंह पर मास्क बांध रखे थे।

दक्षेश्वर महादेव मंदिर के मुख्य पुजारी महंत विश्वेश्वर पुरी महाराज ने कहा कि लॉक डाउन के बाद आज पहली बार मंदिरों में आम श्रद्धालुओं के लिए कपाट खोले गए हैं और श्रद्धालुओं को केंद्र सरकार के दिशा-निर्देश के अनुसार मंदिर में आने के लिए सोशल डिस्टेंसिंग के नियमों का पालन करने के लिए कहा जा रहा है। उन्होंने कहा कि मंदिर में केवल गंगाजल चढ़ाने की अनुमति है।

मंदिर में दर्शन करने के लिए आए श्रद्धालु बेहद खुश हैं कि इतने दिनों बाद उन्हें मंदिर में दर्शन करने को मिल रहे हैं और भोले बाबा के शिवलिंग में जल चढ़ाने का मौका मिला। लोगों ने भगवान से कोरोना वायरस महामारी को जल्दी ही खत्म करने की प्रार्थना की ताकि विश्व के सभी लोग स्वस्थ रहें यह कामना भोलेनाथ से की।

Leave a Reply

ये भी पढ़ें