देहरादून: बोर्डिंग स्कूल में नाबालिग से यौन शोषण का मामला

घटना की जानकारी उन्हें तब हुई जब बच्चे के अभिभावक अपने बच्चे को लेने आये और उन्हें खुद बच्चे के द्वारा ही पूरा घटनाक्रम बताया गया। 

ख़ास बात:

  • देहरादून के बोर्डिंग स्कूल में नाबालिग़ के साथ शोषण
  • सहस्त्रधारा रोड स्थित बोर्डिंग स्कूल का मामला
  • 9 साल के बच्चे के साथ सैक्सुअल हैरेसमेंट का मामला

देहरादून: लॉक डाउन के दौरान देहरादून के एक बोर्डिंग स्कूल में नाबालिग छात्र के साथ शारीरिक प्रताड़ना का सनसनीखेज मामला सामने आया है। पीड़ित पक्ष के मुताबिक लॉक डाउन के दौरान उनके 9 साल के बेटे के साथ शारीरिक प्रताड़ना और सैक्सुअल हैरेसमेंट हुआ है। घटना की जानकारी उन्हें तब हुई जब वो अपने बच्चे को लेने आये और उन्हें खुद बच्चे के द्वारा ही पूरा घटनाक्रम बताया गया।

मामला देहरादून के सहस्त्रधारा रोड पर स्थित बोर्डिंग स्कूल बेवरली शालिनी हिल्स का है। बच्चे की माँ की तहरीर के अनुसार उनका बेटा पांचवीं कक्षा में है और 4 साल से इस स्कूल में पढ़ रहा था। नोएडा निवासी इस महिला ने तहरीर दी कि लॉकडाउन के कारण स्कूल बंद था और सभी बच्चों के अभिभावक उन्हें हॉस्टल से घर ले गए लेकिन क्योंकि वो नोएडा के जिस इलाके में थीं वो रेड जोन था, इस कारण वे बच्चे को लेने के लिए देहरादून नहीं आ पाईं। स्कूल प्रबंधन ने उन्हें आश्वासन दिया कि उनका बच्चा सुरक्षित है।

बच्चे की माँ जब तमाम मुश्किलों से एसएसपी अरुण मोहन जोशी की मदद से किसी तरह उसे लेने पहुंची। इस शर्मनाक घटना की जानकारी परिजनों ने डीएम के साथ ही पुलिस को भी ट्वीट करके भी दी थी। मामले को लेकर नोएडा से परिजन देहरादून के रायपुर थाने पहुंचे जहां उन्होंने पूरे घटनाक्रम पर तहरीर देते हुए पुलिस से स्कूल प्रबंधन पर कार्रवाई की मांग की है। अभिभावकने स्कूल पर आरोप लगाये हैं कि लॉकडाउन के दौरान उनके बच्चे के साथ सैक्सुअल हैरेसमेंट हुआ है साथ ही बच्चे के संग मारपीट हुई है और उससे घरेलू काम भी कराये गये हैं।

वहीं पुलिस का कहना है कि मामला संज्ञान में आने के बाद प्रथम दृष्टया ऐसा होना संभव प्रतीत हो रहा है। परिजनों की तहरीर के आधार पर मुक़दमा पंजीकृत कर दिया गया है। शिकायत मिलने के बाद आरोपित वॉर्डन को गिरफ्तार कर लिया गया और पूछताछ जारी है।

Leave a Reply

ये भी पढ़ें