चारधाम यात्रा 2022 | सुरक्षा व्यवस्थाओं पर प्रदेश कांग्रेस ने उठाये सवाल

धामों में यात्रियों की सुरक्षा के लिए कोई व्यवस्था नहींः करन माहरा

कांग्रेस

चारधाम यात्रादेहरादून । प्रदेश कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष करन माहरा ने चारधाम यात्रा की व्यवस्था पर सवाल खड़े करते हुए सरकार पर प्रहार किए। आज कांग्रेस मुख्यालय में पत्रकारों से वार्ता करते हुए उन्होंने कहा कि कोरोना संक्रमण बढ़ रहा है, लेकिन धामों में यात्रियों की सुरक्षा के लिए व्यवस्था नहीं की गई है।

उन्होंने कहा कि चार धाम यात्रा प्रारंभ हो गई है। उन्होंने कहा कि उन्होंने स्वयं केदारनाथ एवं बदरीनाथ धाम पहुंचकर दर्शन किये हैं और यात्रा की खामियों को जो देखा उसे उजागर कर रहे है।

उन्होंने कहा कि सरकार ने यात्रा व्यवस्था को चुस्त-दुरुस्त करने के लिए व्यवस्था नहीं बनाई। उन्होंने कहा कि यात्रा मार्गों के लिए सरकार ने ट्रैफिक प्लान नहीं बनाया।

उन्होंने कहा कि यात्रा के प्रमुख पड़ाव स्थल ऋषिकेश में ही ट्रैफिक व्यवस्था ध्वस्त हो रही है। आगे और भी परेशानी से यात्रियों को जूझना पड़ेगा। उन्होंने कहा कि चार धाम पहुंचने वाले यात्रियों के सैनिटाइजेशन, सुरक्षित शारीरिक दूरी के साथ दर्शन की व्यवस्था के लिए सरकार ने तैयारी तक नहीं की है जो चिंताजनक है। सरकार की ओर से यात्रा के दौरान स्वास्थ्य सेवायें देने का दावा किया था वह भी पूरी तरह से फेल है और अब तक 16 यात्रियों की जान चली गई है लेकिन सरकार की ओर से स्वास्थ्य कैम्पों को भी स्थापित नहीं किया गया है।

उन्होंने कहा कि मेडिकल फेसिलिटी पूरी तरह से ध्वस्त हो गई है और सड़कों पर पत्थर ही पत्थर फैले हुए है और कल ही एक ही परिवार के पांच लोगों की मौत हो गई है यह बेहद चिंताजनक है। उन्होंने कहा कि शौचालयों की व्यवस्था नहीं है और पुराने शौचालयों से ही काम चलाया जा रहा है और अब केदारनाथ में शौचालयों की नींव रखी जा रही है।

उन्होंने कहा कि केदारनाथ धाम से लेकर डेढ किलोमीटर की लंबी लाईन लगी होने के बाद बारिश व धूप से बचने के लिए किसी भी प्रकार की व्यवस्था इन लाईन वाले क्षेत्रों में नहीं की गई है और गरीबों के लिए रेन बसेरों की व्यवस्था नहीं है और केदारनाथ धाम के शुरू होने से एक दिन पहले रात दस बजे तक बिजली पूरी तरह से गुल रही।

प्रत्याशी निर्मला गहतोडी संघर्षशील महिला है और निश्चित रूप से कांग्रेस की यहां पर जीत होगी और कांग्रेस प्रत्याशी 11 मई को नामांकन करेंगें। इस दौरान प्रदेश प्रभारी देवेंद्र यादव, प्रदेश अध्यक्ष करन माहरा, पूर्व मुख्यमंत्री हरीश रावत, सांसद प्रदीप टम्टा, नेता प्रतिपक्ष यशपाल आर्य, विधायक, पूर्व मंत्री आदि शामिल होंगे। इस अवसर पर अनेक पदाधिकारी शामिल रहे।

%d bloggers like this: