सावधान! पेटीएम केवाईसी पड़ न जाये भारी 

देहरादून: राजधानी पुलिस ने लोगों को लाखों का चूना लगाने वाले तीन शातिर ठगों को झारखंड से गिरफ्तार किया है। ये ठग पेटीएम की केवाईसी कराने के नाम पर नम्बर मांगकर लाखों का चूना लगा रहे थे।

पेटीएम की केवाईसी कराने के नाम पर लाखों की ठगी करने वाले तीन शातिर ठगों को दून पुलिस ने गिरफ्तार किया है। एडवांस कंप्यूटर कोर्स का डिप्लोमा हासिल कर इन शातिर ठगों ने ऐसा जाल बिछाया कि लोगों को केवाईसी कराने के नाम पर लाखों की चपत लगा दी।

देहरादून रायपुर में कुछ दिन पूर्व  पेटीएम कंपनी का कर्मचारी बताते हुए केवाईसी कराने के नाम पर सॉफ्टवेयर इंस्टॉल करके एक महिला के साथ इन शातिर अपराधियों ने 4 लाख 45 हजार की ठगी को अंजाम दिया था। मामला पुलिस के प्रकाश में आते ही टीमों का गठन कर मामले की गंभीरता से जांच की गई। मामले में संलिप्त तीनों आरोपियों को पुलिस ने झारखंड से गिरफ्तार किया और ट्रांजिट रिमांड में लेकर देहरादून पहुँची।

एसएसपी अरुण मोहन जोशी ने जानकारी देते हुए बताया कि ये शातिर अपराधी पूरे देश में अपना काला धंधा ऑपरेट करते थे और फर्जी सिम, फर्जी बैंक खातों के जरिए लोगों को लाखों रुपए की चपत लगा रहे थे। झारखंड में स्थानीय मुखबिर की सूचना से पुलिस ने मुख्य आरोपी शरीद सहित दो आरोपियों को बलिया से गिरफ्तार किया है। आरोपी के पास से 9 मोबाइल, फर्जी सिम कार्ड और नगद धनराशि बरामद की गई है।  एसएसपी ने कहा कि मामले में गिरोह से जुड़े अन्य लोगो की तलाश लगातार जारी है।

पुलिस ने मामले की गंभीरता को देखते हुए तीन आरोपियों को जरूर गिरफ्तार कर लिया है लेकिन यह कहना गलत नहीं होगा कि साइबर क्राइम को अंजाम देने वाले ये आरोपी निडर होकर देश में फल फूल रहे हैं और धड़ल्ले से लोगों को लाखों की चपत लगा रहे हैं।

Leave a Reply

ये भी पढ़ें