पहाड़ की विकास व्यथा | पीने के पानी को तरसता कारगिल शहीद का गाँव

वीर धर्म सिंह रावत का यह गांव राज्य बनने के इतने वर्ष बीत जाने के बाद भी बूंद-बूंद पानी के लिए तरस रहा है। बहुत सी योजनाएं इस गांव में पानी पहुँचने के लिए बनाई गयीं, मगर ये सभी योजनाएं दम तोड़ती दिखाई पड़ रही है।

पौड़ी: प्रदेश सरकार द्वारा वीर सपूतों के गांवों के लिए समय-समय पर विभिन्न योजनाओं की घोषणा की जाती है, मगर घोषणाएं धरातल पर उतरते-उतरते अपना दम तोड़ देती है।

जी हां, बात हो रही है पौड़ी से मात्र 30 किलोमीटर दूर टंगरोली गांव की। कारगिल शहीद वीर धर्म सिंह रावत का यह गाँव प्रदेश सरकार की उपेक्षा का शिकार लंबे समय से रहा है। प्रदेश सरकार द्वारा समय-समय पर वीर सपूतों के गांव के लिए विभिन्न योजनाओं की घोषणा तो की गयीं, मगर ये घोषणाएं धरातल पर कभी भी अपनी रूप रेखा नहीं ले पाई।

वीर धर्म सिंह रावत का यह गांव राज्य बनने के इतने वर्ष बीत जाने के बाद भी बूंद-बूंद पानी के लिए तरस रहा है। बहुत सी योजनाएं इस गांव में पानी पहुँचने के लिए बनाई गयीं, मगर ये सभी योजनाएं दम तोड़ती दिखाई पड़ रही है।

जिला पंचायत सदस्य संजय डबराल ने मांग की है कि वीर सपूत के गांव को जल्द ही डांडा नागराजा पंपिंग योजना या फिर मुंडेश्वर पंपिंग योजना के दायरे में लाया जाए जिससे इस गांव के ग्रामीणों को हो रही पेयजल की समस्या से निजात दिलाई जा सके। उन्होंने साफ किया है कि अगर जल्द ही जिलाधिकारी द्वारा कुछ ठोस कार्रवाई इस संबंध में नहीं की जाती है तो समस्त ग्रामवासी आंदोलन करने के लिए विवश हो जाएंगे। इसके साथ ही छात्र नेताओं ने भी आंदोलन करने की चेतावनी जिला प्रशासन को दे दी है। वही जिलाधिकारी पौड़ी धिराज सिंह गर्ब्याल ने जल्द ही वीर के गाँव की पेयजल योजना के सन्दर्भ में समस्या के निवारण की बात की है।

Leave a Reply

ये भी पढ़ें