मुख्य सचिव की प्रेस वार्ता: अब 21 दिन का होगा क्वारनटीन

राज्य में देश के 75 शहरों से आने वाले यात्रियों को अब 7 दिनों तक संस्थागत क्वारनटीन में और 14 दिन होम क्वारनटीन में रहना होगा।

देहरादून: राज्य में देश के 75 शहरों से आने वाले यात्रियों को अब 7 दिनों तक संस्थागत क्वारनटीन में और 14 दिन होम क्वारनटीन में रहना होगा। इससे पहले रेड ज़ोन से आने वाले सभी लोगों के लिए 14 दिनों का संस्थागत क्वारनटीन निर्देशित था। उत्तराखंड सरकार ने मंगलवार को कोविड-19 को लेकर नै गाइडलाइन्स जारी की। सचिवालय के मीडिया सेंटर में मीडिया कर्मियों से बात करते हुए मुख्य सचिव उत्पल कुमार सिंह ने कोरोना संक्रमण की स्थिति पर जानकारी दी:

  • मुख्य सचिव उत्पल कुमार सिंह का बयान
  • देश के 75 शहरों से आने वाले लोगों को 7 दिनों तक रखा रखा जाएगा क्वारनटीन
  • उत्तराखंड में लगातार कंटेटमेंट जोन बढ़ रहे हैं
  • राज्य में आईसोलेशन बैड की संख्या कुल 13 हजार 900 है
  • कोरोना से जारी जंग के लिए राज्य पूरी तरह से तैयार – मुख्य सचिव
  • उत्तराखंड में अधिकांश मामले प्रवासियों की घर वापसी से बढ़े हैं – मुख्य सचिव
  • क्वारंटीन के नियमों का उल्लंघन होने पर सख्त कार्रवाई होगी – मुख्य सचिव
  • अन्य राज्यों से आने वाले लोगों को रजिस्ट्रेशन करना अनिवार्य है
  • रेड जोन से बाहर जाने वालों को अनुमति लेना अनिवार्य
  • ग्रीन और ओरेंज ज़ोन के बीच आने जाने के लिए अनुमति नहीं चाहिए होगी, किन्तु सरकारी पोर्टल पर रजिस्ट्रेशन अनिवार्य
  • पूरे देश में 75 शहरों को संक्रमण के लिहाज से रेड यानी गंभीर माना है। ये शहर तमिलनाडु, तेलंगाना, कोलकाता, मध्य प्रदेश, दिल्ली, गुजरात, महाराष्ट्र, उत्तर प्रदेश और राजस्थान के हैं।

इन शहरों से आने वालों के लिए होगा नियम:
चेन्नई, हैदराबाद, तिरुवल्लुर, कोलकाता, इंदौर, चेंगलपट्टु, साउथ ईस्ट दिल्ली, मध्य दिल्ली, उत्तरी दिल्ली, दक्षिणी दिल्ली, नॉर्थ ईस्ट दिल्ली, पश्चिम दिल्ली, शाहदरा, पूर्वी दिल्ली, नई दिल्ली, उत्तर पश्चिम दिल्ली, अहमदाबाद, सूरत, वडोदरा, आनंद, बनासकांठा, पंचमहल, भावनग, गांधीनगर, अरावली, मुंबई, पुणे, ठाणे, नासिक, पालघर, नागपुर, सोलापुर, यवतमाल, औरंगाबाद, सतारा, धुले, अकोला, जलगांव, मुंबई उपनगर, आगरा, लखनऊ, सहारनपुर, कानपुर नगर, मुरादाबाद, फिरोजाबाद, गौतम बुद्ध नगर (नोएडा और ग्रेटर नोएडा), बुलंदशहर, मेरठ, रायबरेली, वाराणसी (बनारस), बिजनौर, अमरोहा, संत कबीर नगर, अलीगढ़, मुजफ्फरनगर, रामपुर, मथुरा, बरेली, अजमेर, बाड़मेर, भीलवाड़ा, बीकानेर, चित्तौड़गढ़, डूंगरपुर, जयपुर, जालोर, जोधपुर, कोटा, नागौर, पाली, राजसमंद सवाई माधोपुर, सीकर, सिरोही और उदयपुर

Leave a Reply

ये भी पढ़ें