गंगा

महाकुम्भ ’21 | सिंचाई विभाग की लापरवाही आई सामने

कुंभ की तैयारियों में बड़ी भूमिका निभा रहे उत्तराखंड सिंचाई विभाग की कई लापरवाहियां सामने आ रही हैं।

कुम्भ मेला प्रशासन ने की अनूठी पहल

2021 कुम्भ मेले में अब गँगा में सिक्के और नारियल ढूंढ़ने वाले गोताखोरों को भी रोजगार मिलेगा।

हरिद्वार: वैदिक रीति-रिवाज़ के साथ हुआ करीब 5000 लावारिस अस्थियां का विसर्जन

100 लीटर दूध की धारा के साथ वैदिक रीति-रिवाज से सभी अस्थियों को गंगा जी में किया गया विसर्जित।

हरिद्वार: सतपाल महाराज ने की बाढ़ की तैयारी को लेकर समीक्षा

पहाड़ों और मैदानी क्षेत्रों में हो रही लगातार बारिश से नदियां उफान पर हैं। हरिद्वार में कई दिनों से गंगा उफान पर होने के चलते मैदानी क्षेत्रों में बाढ़ का खतरा मंडरा रहा है।

2016 में एस्केप चैनल घोषित हुई गंगा की धारा; शासनादेश रद्द करने की मांग

साल 2016 में तत्कालीन हरीश रावत सरकार ने हर की पैड़ी पर बहने वाली गंगा की धारा को एक शासनादेश में एस्केप चैनल यानी नहर घोषित किया था। तभी से कई धार्मिक और तीर्थ पुरोहितों के संगठन इस शासनादेश को रद्द करने की मांग करते चले आ रहे हैं।

माँ गंगा की डोली चली गंगोत्री धाम को

गंगा पूजन, गंगा सहस्त्रनाम पाठ एवं विशेष पूजा अर्चना के बाद वैदिक मंत्रोच्चारण के साथ रोहिणी अमृत योग की शुभ बेला पर दोपहर 12:35 बजे सादगीपूर्ण ढंग से गंगोत्री धाम के कपाट दर्शनार्थ खोल दिए जाएंगे।

संत गोपालदास ने दी आत्मदाह की चेतावनी

सरकार पर जान से मारने का आरोप लगते हुए संत गोपालदास ने चेतावनी दी कि यदि 10 दिनों के भीतर गंगा पर खनन रोकने की दिशा में कोई कदम नहीं उठाया गया तो वे आत्मदाह कर लेंगे।