संत गोपालदास ने दी आत्मदाह की चेतावनी

सरकार पर जान से मारने का आरोप लगते हुए संत गोपालदास ने चेतावनी दी कि यदि 10 दिनों के भीतर गंगा पर खनन रोकने की दिशा में कोई कदम नहीं उठाया गया तो वे आत्मदाह कर लेंगे।

 

ख़ास बात:

  • मीडिया से मुखातिब हुए संत गोपालदास।
  • 5 महीने पहले राजधानी देहरादून अस्पताल से हुए थे लापता।
  • मांगे पूरी न होने पर करेंगे आत्मदाह।

देहरादून: मातृ सदन के सन्त गोपालदास पांच महीने बाद देहरादून प्रेस क्लब में आज मीडिया से मुखातिब हुए। सरकार पर जान से मारने का आरोप लगते हुए संत गोपालदास ने चेतावनी दी कि यदि 10 दिनों के भीतर गंगा पर खनन रोकने की दिशा में कोई कदम नहीं उठाया गया तो वे आत्मदाह कर लेंगे।

दरअसल सन्त गोपालदास ने गंगा पर खनन रोकने के लिए 100 दिन से ज्यादा का अनशन किया था। इस अनशन के बाद उनकी तबियत खराब होने पर उनको एम्स ऋषिकेश से दून अस्पताल  शिफ्ट किया गया था, जिसके बाद  दून अस्पताल से पुलिस को चकमा देकर संत गोपालदास गायब हो गए थे और उनकी कोई जानकारी नहीं मिल पा रही थी।

राजधानी देहरादून के प्रेस क्लब में मीडिया से बात करते हुए संत गोपालदास ने सरकार पर जान से मारने की धमकी देने का आरोप लगाया है। उन्होंने 10 दिनों में सरकार से गंगा पर खनन को रोकने की अपील की और मांगे  पूरी न होने पर 10 दिन बाद आत्मदाह करने की चेतावनी दी है।

Leave a Reply

ये भी पढ़ें