Home ट्रेंडिंग धर्म-कर्म: 25 अक्टूबर को सूर्य ग्रहण, 24 को मनाई जाएगी दिवाली

धर्म-कर्म: 25 अक्टूबर को सूर्य ग्रहण, 24 को मनाई जाएगी दिवाली

धर्म-कर्म: 25 अक्टूबर को सूर्य ग्रहण, 24 को मनाई जाएगी दिवाली

नई दिल्ली। हिंदू पंचांग के अनुसार, दिवाली का पर्व कार्तिक मास की अमावस्या तिथि को मनाया जाता है। दीपों का ये त्यौहार अधर्म पर धर्म की विजय के रूप में मनाया जाता है। इस बार दिवाली की तिथि को लेकर थोड़ा सा असमंजस है। क्योंकि इस साल अमावस्या तिथि पर सूर्य ग्रहण भी लग रहा है। शास्त्रों के अनुसार, ग्रहण के दौरान किसी भी तरह के मांगलिक और शुभ कार्यों को करने को सही नहीं माना जाता है।

दिवाली 2022 की सही तिथि
अमावस्या तिथि आरंभ-24 अक्टूबर को शाम 5 बजकर 27 मिनट से शुरू होकर 25 अक्टूबर शाम 4 बजकर 18 मिनट तक रहेगी। अंग्रेजी कैलेंडर के अनुसार, दिवाली का पर्व 24 अक्टूबर, सोमवार को मनेगा। क्योंकि 25 अक्टूबर को सूर्य ग्रहण पड़ रहा है। पंचांग भेद से 25 अक्टूबर को भी अमावस्या रहेगी। दिवाली के दिन रात के समय लक्ष्मी पूजन करने का विधान है। इसकारण 24 अक्टूबर को ही महालक्ष्मी की पूजा की जाएगी।

सूर्य ग्रहण कब से कब तक
साल 2022 का आखिरी सूर्य ग्रहण 25 अक्टूबर के दिन पड़ रहा है। सूर्य ग्रहण 25 अक्टूबर को शाम 4 बजकर 29 मिनट से शुरू होकर 5 बजकर 42 मिनट तक रहेगा। भारत में दिखाई नहीं देने के कारण सूतक काल मान्य नहीं होगा।

कहां-कहां दिखाई देगा सूर्य ग्रहण
मुख्य रूप से यूरोप, उत्तर-पूर्वी अफ्रीका और पश्चिम एशिया के कुछ हिस्सों से दिखाई देगा। इसके अलावा भारत में सूर्य ग्रहण नई दिल्ली, बेंगलुरु, कोलकाता सहित कुछ जगहों पर दिखाई दे सकता है।

You may also like