Home क्राइम सिडकुल: शातिर बाइक चोर गिरफ्तार, चोरी की पांच बाइकें बरामद

सिडकुल: शातिर बाइक चोर गिरफ्तार, चोरी की पांच बाइकें बरामद

सिडकुल: शातिर बाइक चोर गिरफ्तार, चोरी की पांच बाइकें बरामद
  • सिडकुल क्षेत्र से शातिर बाइक चोर गिरफ्तार
  • आरोपी से चोरी की पांच बाइकें बरामद

हरिद्वार । सिडकुल पुलिस ने मुखबिर की सूचना पर एक शातिर बाइक चोर को को चोरी की बाइक के साथ दबोचा है। पुलिस ने आरोपी से पूछताछ के दौरान उसकी निशानदेही से चोरी की चार ओर बाइकें बरामद की है। पुलिस ने आरोपी के खिलाफ सम्बंधित धाराओं में मामला दर्ज करते हुए मेडिकल के बाद न्यायालय में पेश कर जेल भेज दिया।

सिडकुल थाना प्रभारी निरीक्षक प्रमोद कुमार उनियाल ने बताया कि योगेश कुमार निवासी वेद सिटी पंतजलि योगपीठ बहादराबाद ने 12 अक्टूबर को तहरीर देकर शिकायत की थी कि वह किसी काम के सिलसिले में सिडकुल स्थित हर्बल कम्पनी में आया था, जहां कम्पनी की पार्किंग में उसने अपनी बाइक पार्क की थी, जिसको अज्ञात द्वारा चोरी कर ली गयी। वहीं रोकी कुमार निवासी अतमलपुर बौंगला बहादराबाद ने भी 14 अक्टूबर को तहरीर देकर शिकायत की थी कि उसकी बाइक एकम्स कम्पनी की पार्किग से चोरी हो गयी। पुलिस ने दोनों घटनाओं में मुकदमा दर्ज कर सीसीटीवी कैमरों की मदद से बाइक चोर की शिनाख्त करते हुए तलाश शुरू कर दी। इसी दौरान पुलिस को मुखबिर से सूचना मिली कि आन्नेकी पुल के पास एक संदिग्ध बाइक सवार देखा गया है। जिसके पास चोरी की बाइक है।

सूचना पर पुलिस ने तत्काल मौके पर पहुंचकर बताये गये हुलिए और बाइक की पहचान के आधार पर संदिग्ध को दबोच लिया। जिससे बाइक के सम्बंध में कागजात दिखाने को बोला गया। लेकिन वह कोई कागजात नहीं दिखा पाया। जिसको पुलिस थाने लेकर पहुंची, जहां पर पूछताछ के दौरान आरोपी ने अपना नाम आलोक तिवारी पुत्र अभिनाश तिवारी निवासी ग्राम औंरगांबाद मैकलगंज लखीमपुर खीरी यूपी बताते हुए खुलाया कि उसके बाइक बाइक चोरी की है। जिसने क्षेत्र से चोरी की हैैै।

इसके अलावा आरोपी ने पुलिस को पूछताछ के दौरान सिडकुल क्षेत्र स्थित केविन केयर के पास नाल के समीप झाड़ियों में चोरी की चार ओर बाइके छुपा कर रखने की जानकारी दी। पुलिस आरोपी की निशानदेही से चोरी की चार ओर बाइके बरामद कर ली। पुलिस ने बरामद की गयी पांच बाइकों में दो बाइकें क्षेत्र से चोरी हुई मिली। पुलिस ने आरोपी के खिलाफ सम्बंधित धाराओं में मामला दर्ज करते हुए मेडिकल के बाद न्यायालय में पेश कर जेल भेज दिया।

You may also like