दुःखद: नहीं रहे उत्तराखंड के युवा संगीतकार गुंजन डंगवाल, सड़क हादसे में मौत

डंगवाल देहरादून से चंडीगढ़ अपने दोस्त के पास जा रहे थे जब यह हादसा सुबह चार से पांच बजे के बीच हुआ।

दुःखद: नहीं रहे उत्तराखंड के युवा संगीतकार गुंजन डंगवाल, सड़क हादसे में मौत

देहरादून। उत्तराखंड संगीत इंडस्ट्री के उभरते हुए युवा संगीतकार जिन्होंने पहाड़ी अ-कापेला, नंदू मामा की स्याली, ऊडांदू भौंरे, गोरा रंग तेरो रे, छमा चौक आदि जैसे बेहतरीन गीतों को पिरोने वाले संगीतकार गुंजन डंगवाल का सड़क दुर्घटना में आकस्मिक निधन हो गया।

Sad: Uttarakhand's young musician Gunjan Dangwal is no more, died in a road accident26 वर्षीय गुंजन डंगवाल संगीत की ताल को नए स्वरुप में ढालने के अपने संगीतमय व सुन्दर प्रयास के लिए संगीत प्रेमियों के बीच जाने जाते थे। सूचना के मुताबिक़ डंगवाल देहरादून से चंडीगढ़ अपने दोस्त के पास जा रहे थे जब यह हादसा सुबह चार से पांच बजे के बीच हुआ।

बताया जा रहा है कि वह अपनी स्विफ्ट कार में सवार थे और दुर्घटना के वक्त अकेले ही थे। दुर्घटना की सूचना मिलते ही उनके माता-पिता देहरादून से चंडीगढ़ के लिए रवाना हो गए हैं। देर शाम तक उनके वापस दून पहुंचने की संभावना है।

उत्तराखंडी गीत संगीत के लिए यह बड़ा झटका माना जा रहा है। सोशल मीडिया पर गुंजन के आकस्मिक निधन पर शोक संदेशों की भरमार होने लगी है व संगीत प्रेमी इस क्षति से स्तब्ध हैं।