वर्दी में शर्मनाक करतूत – क्वारंटीन सेंटर में नव विवाहिता के साथ छेड़छाड़

ज़िले की किच्छा विधानसभा के पुलभट्टा क्षेत्र में बने क्वारंटीन सेंटर में एक नव विवाहिता के साथ पुलिसकर्मी द्वारा छेड़छाड़ करने का एक शर्मनाक मामला सामने आया है।

ख़ास बात:

  • वर्दी को करते दागदार – पुलिसकर्मी की शर्मनाक करतूत
  • क्वारंटीन सेंटर में नव विवाहिता के साथ पुलिस वाले ने की छेड़छाड़
  • पीड़िता ने काटी डर के साए में रात
  • किच्छा विधानसभा के पुलभट्टा क्षेत्र का मामला

किच्छा, ऊधमसिंह नगर: ज़िले की किच्छा विधानसभा के पुलभट्टा क्षेत्र में बने क्वारंटीन सेंटर में एक नव विवाहिता के साथ पुलिसकर्मी द्वारा छेड़छाड़ करने का एक शर्मनाक मामला सामने आया है। मामले को तूल पकड़ता देख मौके पर पुलिस के आलाधिकारी पहुँच गये और सूत्रों के अनुसार फिलहाल आरोपी पुलिस कर्मी को बर्खास्त कर दिया गया है।

गौरतलब है कि किच्छा के पुलभट्टा क्षेत्र में सूरजमल इंस्टीटूट में क्वारंटीन सेंटर स्थित है, जहाँ पर प्रवासियों को क्वॉरंटीन किया जा रहा है। इसी कड़ी के चलते दिल्ली से किच्छा लौटे एक नवदम्पत्ति को भी इसी सेंटर में क्वारंटीन किया गया था। नव दम्पत्ति का आरोप है कि शनिवार की बीती रात को क्वारंटीन सेंटर में ड्यूटी पर तैनात एक पुलिसकर्मी शराब के नशे में रात को नवदम्पत्ति के पास दो मंजिल में पहुँचा और नवविवाहिता को नीचे की मंजिल में बने कमरे में हाथ पकड़ कर ले जाने लगा। नवदम्पत्ति के विरोध करने पर उसने कहा कि महिलाओं के लिए नीचे रहने की व्यवस्था है। विरोध करने पर पुलिसकर्मी ने नवदम्पत्ति के साथ मारपीट की व पीड़ित के कपड़े फाड़ने का प्रयास किया। पुलिसकर्मी की इस वहशियाना हरकत से घबरा कर नवविवाहिता ने भागकर अपने को कमरे में बंद कर लिया और दहशत के साये में रात गुज़ारी। सुबह नवदम्पत्ति के परिजनों को घटना का पता लगा जिसके बाद गुस्साये परिजनों ने आरोपी पुलिसकर्मी के खिलाफ सख्त कार्यवाही की माँग की।

इस शर्मनाक घटना के बाद किच्छा विधायक राजेश शुक्ला ने आपत्ति जताते हुए कहा कि इस घटना से पुलिस की छवि धूमिल हुई है। इस घटना को अंजाम देने वाले आरोपी पुलिस कर्मी के जाँच और उसके खिलाफ सख्त कार्यवाही करने का भरोसा पीड़ित परिवार को दिलाया है।

इस मामले में पुलिस प्रशासन उचित कार्यवाही करने की बात कर रहा है। सीओ सुजीत  की माने तो आरोपी पुलिसकर्मी के खिलाफ तहरीर के आधार पर मुकदमा दर्ज करने की कार्यवाही की जा रही है। पीड़िता को मेडिकल के लिए भेज दिया गया है।

जहाँ एक ओर कोरोना वायरस के खतरे में अपनी जान की परवाह किये बगैर अपनी ड्यूटी को पुलिस कर्मी अंजाम दे रहे हैं जिन्हें जनता उनके इस सराहनीय कार्य के लिए पुष्प-माला पहना कर उनका स्वागत कर रही है उनका हौसला बड़ा रही है, वहीँ कुछ पुलिस कर्मी ऐसे भी हैं जो अपनी अश्लील हरकतों से पुलिस की शान में बट्टा लगा रहे है। अब देखना यह होगा की क्या पुलिस प्रशासन पुलिस कर्मी को बचाने का प्रयास करेगा या पीड़ित नवदम्पत्ति को इन्साफ दिलाने में अपने कार्यो का निर्वहन करेगा।

Leave a Reply

ये भी पढ़ें