पौड़ी: क्वारनटीन में नहीं रखना था परिवार, तो किया प्रधान पर हमला

क्वारनटीन सेंटर में रखे जाने को लेकर दूसरे पक्ष ने ग्राम प्रधान पर लाठी-डंडों और पत्थरों से हमला कर दिया जिसमें ग्राम प्रधान को गंभीर चोटें आई हैं।

पौड़ी: कोरोना का दौर जहाँ देश में जारी है, लोगों की लापरवाही भी सारी हदें पार कर रही है। कोरोना को लेकर स्थिति जहाँ अभी भी गंभीर बनी हुई है, लोगों का गैर-जिम्मेदाराना रवैय्या मानो हर दिन एक नयी चुनौती बन कर प्रशासन के लिए सरदर्द बना पड़ा है।

पौड़ी जिले से सटे केवर्स गांव में क्वारनटीन करने को लेकर एक विवाद सामने आया है जिसमें दिल्ली से आए प्रवासियों को स्कूल में क्वारनटीन करने को लेकर ग्राम प्रधान और प्रवासियों के बीच जमकर कहासुनी हो गई।

क्वारनटीन सेंटर में रखे जाने को लेकर दूसरे पक्ष ने ग्राम प्रधान कैलाश सिंह रावत पर लाठी-डंडों और पत्थरों से हमला कर दिया जिसमें ग्राम प्रधान को गंभीर चोटें आई हैं। ग्राम प्रधान ने आरोप लगाया है कि दिल्ली से आए प्रवासियों को उन्होंने नियम अनुसार स्कूल में क्वारनटीन करने के लिए सभी व्यवस्थाएं की थी, मगर बाहर से आई महिला और उसकी बेटी को क्वारनटीन सेंटर में ना रखने को लेकर महिला के पति के साथ ग्राम प्रधान का विवाद हो गया।

विवाद ने धीरे-धीरे कुछ इस क़दर तूल पकड़ा कि महिला के पति अनिल सिंह ने प्रधान के साथ गाली-गलौच कर डंडे और पत्थर से हमला कर दिया। ग्राम प्रधान कैलाश सिंह रावत ने इसकी शिकायत क्षेत्रीय पटवारी से लिखित रूप में की है। प्रधान का यह भी आरोप लगाया है कि स्थानीय प्रशासन मामले की गंभीरता में कोई विशेष ध्यान नहीं दे रहा है और मामले को रफा-दफा करना चाहता है।

ग्राम प्रधान का कहना है कि उन्होंने नियम अनुसार प्रवासियों को स्कूल में क्वारनटीन करने की सभी व्यवस्थाएं की थी मगर इसके बावजूद भी महिला के पति द्वारा उनके साथ अभद्र व्यवहार गाली-गलौच और पत्थरों से वार कर उन्हें घायल किया गया। उन्होंने प्रशासन से मांग की है कि मामले की गंभीरता को देखते हुए महिला के पति पर कठोर से कठोर कार्यवाही की जानी चाहिए। अपर जिलाधिकारी एस के बर्नवाल ने मामले की गम्भीरता को देखते हुए राजस्व उपनिरीक्षक को जल्द से जल्द कार्रवाई करने के आदेश दे दिए हैं।

Leave a Reply

ये भी पढ़ें