Home उत्तराखंड टॉप हल्द्वानी: रेलवे अतिक्रमण हटाने पर पीड़ितों का फूटा गुस्सा, हर आँख हुई नम

हल्द्वानी: रेलवे अतिक्रमण हटाने पर पीड़ितों का फूटा गुस्सा, हर आँख हुई नम

[penci_video url=”https://youtu.be/r8hZd6FRcpM” align=”center” width=”” /]

हल्द्वानी । हाईकोर्ट के आदेश के बाद हल्द्वानी के बहुचर्चित रेलवे अतिक्रमण मामले ने अब जोर पकड़ लिया है। जिला प्रशासन और रेलवे प्रशासन आज से अतिक्रमण हटाने के लिए कार्रवाई शुरू करने जा रहा है तो वहीं दूसरी ओर पीड़ित लोगों ने बनभूलपुरा क्षेत्र में सत्याग्रह शुरू कर दिया है।

हजारों की तादाद में लोग धरना प्रदर्शन कर अतिक्रमण नहीं हटाए जाने की मांग कर रहे हैं। ऐसे में प्रशासन ने भी अपनी पूरी तैयारियों के साथ मौके पर मौजूद हैं। रेलवे अतिक्रमण पीड़ितों के साथ विधायक सुमित हृदयेश सपा प्रभारी अब्दुल मतीन सिद्दीकी सपा महासचिव शोएब अहमद व अन्य नेता शामिल रहे। लोगों का कहना है कि अगर हमारे घर उजाड़ दिए जाते हैं तो हम कहा जाएंगे।

दादी इंदिरा और मां सोनिया की खूबियां मिली-जुली हों, ऐसी लड़की से शादी करेंगे राहुल

उनका कहना है पिछले कई दशकों से हजारों की संख्या में परिवार बसा हुआ है लेकिन आज उन को उजाड़ने का काम किया जा रहा है। स्कूल में पढ़ रहे हमारे बच्चों का भविष्य भी खतरे में आ जाएगा। लोगों का कहना है कि उजड़ने वाले लोगों में बच्चे महिलाएं और बुजुर्ग भी काफी बड़ी संख्या में हैं ऐसे हालात में वह लोग कहां अपने सिर को छुपाएंगे। आज भारी फोर्स तैनात किया गया है हजारों की संख्या में लोग बनभूलपुरा क्षेत्र में घरों से निकलकर धरना प्रदर्शन कर रहे हैं।

गौरतलब है कि हाईकोर्ट के आदेश के बाद रेलवे की 78 एकड़ जमीन पर अतिक्रमण कर बनाए गए 4365 भवनों को ध्वस्त करने के आदेश दिए हैं। साथ ही प्रशासन व पुलिस से सहयोग करने के लिए कहा है।

 

 

You may also like