पौड़ी: निजी शिक्षण संस्थानों की मनमानी जारी

कोरोना संक्रमण के तहत राज्य सरकार द्वारा निजी स्कूलों से फीस न लेने के आदेश जारी किए गए थे मगर प्रदेश सरकार के आदेश के बावजूद भी निजी शिक्षण संस्थानों की मनमानी जारी है।

रिपोर्ट: मुकेश बछेती

ख़ास बात:

  • निजी शिक्षण संस्थानों की मनमानी जारी
  • ट्यूशन फीस के नाम पर वसूल रहे मोटी रक़म 
  • कोटद्वार में भी आया था ऐसा मामला
  • सरकार के आदेशों का बनाया मज़ाक

पौड़ी: कोरोना संक्रमण के तहत राज्य सरकार द्वारा निजी स्कूलों से फीस न लेने के आदेश जारी किए गए थे मगर प्रदेश सरकार के आदेश के बावजूद भी निजी शिक्षण संस्थानों की मनमानी जारी है।

ताज़ा मामला पौड़ी ज़िले से संबंधित है जहां पर एक निजी विद्यालय द्वारा सरकार के आदेश के बावजूद भी छात्रों से ट्यूशन फीस के नाम पर मोटी फीस वसूली जा रही है, इससे पहले कोटद्वार के एक निजी विद्यालय द्वारा फीस वसूली का एक मामला सामने आया था जिस पर जिलाधिकारी पौड़ी द्वारा संबंधित स्कूल को नोटिस के बाद केंद्र सरकार को उस स्कूल की मान्यता रद्द करने के लिए भी पत्राचार कर दिया गया।

पौड़ी में भी आज निजी विद्यालय की मनमानी के विरोध में अभिभावकों द्वारा जिलाधिकारी पौड़ी को ज्ञापन सौंपा गया। अभिभावकों कहना है कि निजी संस्थान सरकार के आदेशों की अवहेलना कर रहे हैं जिस पर कार्रवाई की जानी चाहिए।

वहीं ज़िला अधिकारी का कहना है कि कोटद्वार के निजी स्कूल पर कार्यवाही की जा रही है जबकि पौड़ी के निजी स्कूल के बारे में जांच की जा रही है। जांच करने के बाद जो भी तथ्य सामने आएंगे उन तथ्यों के आधार पर संबंधित विद्यालय पर कार्रवाई की जाएगी। मगर इतना तय है कि निजी शिक्षण संस्था खुद को सरकार से ऊपर मानती है और सरकार के आदेशों को इससे पहले भी कई बार ये विद्यालय नकार चुके हैं।

Leave a Reply

ये भी पढ़ें