ई-रिक्शा संचालकों ने वाहनों को लगाई आग

देहरादून: राजधानी देहरादून में रिक्शा चालकों का गुस्सा इस कदर परवान चढ़ा कि ई-रिक्शा चालक ने अपने ही ई -रिक्शा  को आग के हवाले कर दिया। राज्य सरकार के खिलाफ पिछले लम्बे समय से धरने पर बैठे ई-रिक्शा चालकों ने सरकार पर आरोप लगाया है कि सरकार के आदेशों के बाद भी उनके ई-रिक्शों को शहर मे नही चलाने दिया जा रहा है।

परेड ग्राउंड के धरना स्थल पर ई-रिक्शा चालकों का जोरदार प्रदर्शन देखने को मिला। ई रिक्शा चालकों ने सरकार के खिलाफ नारेबाजी करते हुए ई-रिक्शा में आग लगा दी और आरोप लगाया कि सरकार उनकी मांगों को अनदेखा कर रही है। ई-रिक्शा चालकों की मांग है कि उनको मुख्य मार्गो पर सरकार चलने दे या फिर बैंक से लिया गया लोन माफ करवाया जाए।

उनका आरोप है की पुलिस मुख्यालय की मंजूरी के बावजूद भी पुलिस मुख्य मार्गो पर ई-रिक्शा चलने नहीं दे रही है। आपको बताते चलें की ड़ी आई जी ट्रैफिक और एस पी ट्रैफिक ने दो दर्जन से अधिक रूटों पर ई-रिक्शा संचालन को मंजूरी दी है लेकिन बावजूद इसके आक्रोशित ई-रिक्शा संचालकों ने डालनवाला कोतवाली क्षेत्र के अंतर्गत ई-रिक्शा फूक दी उन्होंने कहा कि मुख्य मार्गो पर प्रतिबंध से उनकी रोजीरोटी पर संकट आ गया है।

मुख्यमंत्री जनकल्याण योजना के तहत ई-रिक्शा चालकों ने लोन लिया था लेकिन लोन ना चुकाने पर उन्हें लगातार बैंक परेशान कर रहे है। उन्होंने सरकार से मांग की है कि या तो सरकार बैंक लोन माफ करवाऐ या फिर ई-रिक्शो को शहर मे चलने दिया जाए। उन्होंने कहा यदि सरकार ने जल्द ही उनकी मांगो पर ध्यान नहीं दिया तो वे आत्मदाह करेगे।

 

Leave a Reply