डीजीपी की चेतावनी का दिखा असर

देहरादून:  उत्तराखण्ड में डीजीपी अनिल रतूड़ी के जमातियों को दिये गए अल्टीमेटम के बाद अब सख्ती का असर देखने को मिल रहा है। डीजी लॉ एंड आर्डर अशोक कुमार ने जानकारी देते हुए बताया कि 6 अप्रैल को 180 लोग सामने आए जो अलग-अलग जनपद से है और इनके अलावा इससे पहले 41 लोग ऐसे थे जो चोरी-छिपे उत्तराखण्ड में आए थे। इन 41 लोगों पर पुलिस की ओर से एफआईआर दर्ज हो चुकी है और चार ऐसे लोगों पर भी मुकदमा दर्ज किया गया है जो इनको शरण दे रहे थे।

उन्होंने बताया कि जिन लोगों ने अपनी हिस्ट्री छुपाई है उनके खिलाफ भी मुकदमा दर्ज कर दिया गया है। पूरे प्रदेश में आज तक 973 एफआईआर दर्ज हो चुकी हैं, 4071 लोगों को लॉक डाउन के उल्लंघन में गिरफ्तार किया जा चुका है और 3331 वाहन सीज हो चुके हैं।

Leave a Reply

ये भी पढ़ें