चारधाम यात्रा खुलने के आसार; परिवहन सेवा बहाली पर भी मंथन

उत्तराखंड के लिये तीर्थाटन राज्य की आय का बहुत बड़ा स्रोत है इसलिए इसके खुलने पर सभी पहाड़ वासियों की नज़रें और उम्मीदें टिकी हुई हैं।

देहरादून: उत्तराखंड के पावन चारधाम के कपाट खुले लगभग एक महीने का समय बीत चुका है। सभी धामों के कपाट बड़ी ही सादगी से महामारी के नियमों के मद्देनज़र खोले गये जिसके बाद से मंदिरों में पुजारियों द्वारा नियमित रूप पूजा पाठ किया जा रहा है।

पवित्र धाम के कपाट खुलने के बावजूद इस बार तीर्थ यात्रियों को दर्शन करने की अनुमति नहीं है। लेकिन अब लॉकडाउन 4 के ख़त्म होने के साथ और अनलॉक 1 के शुरू होते ही पूरे देश में कई प्रकार की छूट डी गयी हैं।

इन तमाम छूटों के साथ ही अंदाज़ा लगाया जा रहा था की अब चारधाम यात्रा भी शुरू की जायेगी। उत्तराखंड के लिये तीर्थाटन राज्य की आय का बहुत बड़ा स्रोत है इसलिए इसके खुलने पर सभी पहाड़ वासियों की नज़रें और उम्मीदें टिकी हुई हैं। इन सब को लेकर कैबिनेट मंत्री मदन कौशिक ने बताया कि राज्य में चारधाम यात्रा शुरू की जा सकती है हालाँकि अगर सब ठीक रहा तो यात्रा सीमित संख्या में ही शुरू की जाएगी। इस सम्बन्ध में 8 जून के बाद फैसला लिया जा सकता है।

प्रदेश में परिवहन सेवाओं को भी बहाल करने पर मंथन चल रहा है।

Leave a Reply

ये भी पढ़ें