लापरवाही की कहानी – खुद सुनिए कोरोना संक्रमित के संपर्क में आने वाले ड्राईवर की जुबानी

श्रीनगर गढ़वाल के निकट कीर्तिनगर ब्लॉक में कोरोना संक्रमित युवक को अपने वाहन में ले जाने वाले वाहन चालक के प्रति कीर्तिनगर तहसील प्रशासन की लापरवाही का मामला सामने आया है।

ख़ास बात:

  • कीर्तिनगर तहसील प्रशासन की लापरवाही की कहानी
  • कोरोना संक्रमित के संपर्क में आने वाले ड्राईवर की नहीं ली सुध
  • ये लापरवाही न पड़ जाए भारी
  • बाद में लिया सैंपल और भारती किया इसोलाशन वार्ड में

पौड़ी: श्रीनगर गढ़वाल के निकट कीर्तिनगर ब्लॉक में कोरोना संक्रमित युवक को अपने वाहन में ले जाने वाले वाहन चालक के प्रति कीर्तिनगर तहसील प्रशासन की लापरवाही का मामला सामने आया है।

वाहन चालक ने सोशियल मीडिया पर वायरल बयान में आरोप लगाया गया है कि संक्रमित युवक के सम्पर्क में आने वाले लोगों का जांच के लिये सैम्पल लिया गया लेकिन उसका नहीं लिया गया और जिस स्कूल में उसे क्वारंटीन किया गया वहां भी उसकी कोई सुध नहीं ली गई।

हालांकि वाहन चालक के परिचितों की सूचना पर एक दिन पूर्व श्रीनगर तहसील प्रशासन द्वारा उसे बेस अस्पताल के आइसोलेशन वार्ड में भर्ती करा दिया गया है और उसके सैम्पल जांच के लिए भेज दिये गए हैं लेकिन इसने लापरवाह प्रशासनिक कार्यशैली की पोल जरूर खोल दी है।

Leave a Reply

ये भी पढ़ें