Home उत्तराखंड टॉप मां का सवाल अंकिता के अंतिम संस्कार की इतनी जल्दी क्यों थी प्रशासन को

मां का सवाल अंकिता के अंतिम संस्कार की इतनी जल्दी क्यों थी प्रशासन को

परिजनों का आरोप है कि अंकिता के पिता पर प्रशासन द्वारा अंतिम संस्कार करने को दबाव बनाया गया।

देहरादून । अंकिता भंडारी की मां ने प्रशासन से सवाल किया हैं कि उनकी बेटी के अंतिम संस्कार की आखिर इतनी जल्दी क्यों की गई? मां ने कहा कि अंतिम संस्कार से पहले वह एक बार अपनी बेटी को देखना चाहती थीं। मां ने बताया कि तबीयत खराब होने की वजह से अस्पताल में भर्ती थीं, और प्रशासन ने उन्हें बिना बताए उनकी बिटिया का जल्दबाजी में अंतिम संस्कार कर दिया।

मां का आरोप है कि प्रशासन ने उन्हें धोखे में रखकर बिटिया का अंतिम संस्कार कर दिया। मां कहती हैं कि देश की सभी बेटियां सुरक्षित रहनी चाहिए और अंकिता के हत्यारोपियों को सख्त से सख्त सजा होनी चाहिए। परिजनों का आरोप है कि अंकिता के पिता पर प्रशासन द्वारा अंतिम संस्कार करने को दबाव बनाया गया।

प्रशासन द्वारा समझाने के बाद परिजन अंतिम संस्कार को तैयार हो गए थे और प्रदर्शनकारियों द्वारा ही अंकिता के शव को घाट ले जाया गया, जहां पर उसका अंतिम संस्कार हुआ। मालूम हो कि एम्स ऋषिकेश में अंकिता का पोस्टमार्टम होने के बाद शव को शनिवार देर रात श्रीनगर लाया गया था। रविवार को अंकिता के परिजनों और प्रदर्शनकारियों ने अंकिता के हत्यारोपियों को कड़ी सजा दिलाए जाने की मांग को लेकर विरोध प्रर्दशन कर बदरीनाथ हाईवे जाम कर दिया था।

You may also like