रिपोर्ट: सुनील सोनकर

देहरादून | कैबिनेट मंत्री गणेश जोशी ने देहरादून के कैंट अस्पताल में टीकाकरण का जायजा लिया। उन्होंने कहा कि जल्दी ही हंस फाउंडेशन के सहयोग से देहरादून में 1000 बेड का कोविड केयर सेंटर बनाया जाएगा।

उत्तराखंड में कोरोना संक्रमण को देखते हुए राज्य सरकार द्वारा स्वास्थ्य से जुडी सभी व्यवस्थाओं को दुरुस्त किया जा रहा है। इसको लेकर कैबिनेट मंत्री गणेश जोशी द्वारा प्रदेश में ऑक्सीजन की उपलब्धता को लेकर पूरे प्रदेश से डाटा एकत्रित किया गया है।

वहीं उन्होंने बताया कि प्रदेश में काफी भारी मात्रा में ऑक्सीजन बनाई जा रही है परन्तु स्वास्थ्य विभाग द्वारा मात्र 20 प्रतिशत ही प्रयोग में भाग भी लाया जा रहा है। जबकि उत्तराखण्ड से दूसरे प्रदेशों में सप्लाई की जा रही है।

उन्होंने कहा कि स्वास्थ्य विभाग द्वारा ऑक्सीजन की बढ़ती मांग को लेकर अभी तक डिमांड ही नहीं की गई है। उन्होंने कहा कि उदाहरण के लिए उत्तराखंड में आइडियल है जहां पर 145 टन ऑक्सीजन बनाता है और उत्तराखंड मात्र 20 टन ऑक्सीजन ले रहा है जबकि अन्य राज्य हरियाणा उत्तर प्रदेश को निर्यात किया जा रहा है।

उन्होंने कहा कि उनके द्वारा सचिव को निर्देशित किया गया है कि यह सुनिश्चित करें कि प्रदेश में ऑक्सीजन की कमी ना हो और भरपूर मात्रा में ऑक्सीजन की डिमांड करे जिससे लोगो को किसी प्रकार की दिक्कते ना हो हो। उन्होने कहा कि जल्द भारत सरकार से प्रदेश के ऑक्सीजन के कोटे को बढ़ाए जाने की मांग की जा रही है जिसके लिए मुख्यमंत्री द्वारा भी सहमति दी गई है। उन्होंने कहा कि जल्द उत्तराखंड में ऑक्सीजन की कमी नहीं होने दी जायेगी।

उन्होंने कहा कि अगर प्रदेश में कोई ऑक्सीजन को लेकर नया प्लांट लगाना चाहता है तो उसको सरकार द्वारा सभी सुविधाएं देते हुए उसको सिंगल विंडो सिस्टम में 15 दिन के अंदर सभी प्रकार के एनओसी दे दी जाएगी जिससे कि वह जल्द से जल्द अपने ऑक्सीजन प्लांट को शुरू कर सके और प्रदेश में ऑक्सीजन की भारी कमी को दूर कर सकें।

उत्तराखंड की ख़बरें

Leave a Reply

ये भी पढ़ें