सरकार का रेल कर्मचारियों को तोहफा

कैबिनेट ने बुधवार को रेलवे कर्मचारियों को 78 दिनों के वेतन के बराबर बोनस को मंजूरी दे दी है। बोनस का लाभ 11.52 लाख कर्मचारियों को मिलेगा।

ख़ास बात:

  • लगातार छठे वर्ष रेलवे कर्मचारियों के लिए 78 दिनों के वेतन के बराबर बोनस की हुई घोषणा
  • वित्त वर्ष 2018-19 में 11.52 लाख कर्मचारियों को दिया जाएगा बोनस
  • कर्मचारियों को बोनस देने में खर्च होंगे 2024.4 करोड़ रुपये

नयी दिल्ली:

गुरुवार को एक प्रेस वार्ता में केंद्रीय मंत्री प्रकाश जावड़ेकर ने बताया कि कैबिनेट ने बुधवार को रेलवे कर्मचारियों को 78 दिनों के वेतन के बराबर बोनस को मंजूरी दे दी है।

यह लगातार छठा वर्ष है जब रेलवे कर्मचारियों को उत्पादकता से जुड़ा बोनस दिया जा रहा है। जावड़ेकर ने कहा कि बोनस का लाभ 11.52 लाख कर्मचारियों को मिलेगा और सरकारी खजाने पर 2024.40 करोड़ रुपये खर्च होंगे।

एक आधिकारिक बयान में कहा गया है कि बोनस का भुगतान बड़ी संख्या में रेलवे कर्मचारियों को प्रदर्शन में सुधार लाने और उत्पादकता के स्तर को बढ़ाने के लिए प्रेरित करता है।

प्रधानमंत्री नरेन्‍द्र मोदी की अध्‍यक्षता में केंद्रीय मंत्रिमंडल ने रेल कर्मचारियों के बीच औद्योगिक अमन-चैन कायम रखने एवं उन्‍हें प्रेरित रखने के उद्देश्‍य से, वित्‍त वर्ष 2018-19 के लिए पात्र 11,52,308 अराजपत्रित रेल कर्मचारियों (आरपीएफ/आरपीएसएफ कार्मिकों को छोड़कर) को 78 दिनों के वेतन के समतुल्‍य उत्‍पादकता आधारित बोनस (पीएलबी) के भुगतान को अपनी मंजूरी दे दी है। इसके परिणामस्‍वरूप सरकारी खजाने पर 2024.40 करोड़ रुपए का व्‍यय होगा, सरकार द्वारा जारी बयान में कहा गया।

Leave a Reply

ये भी पढ़ें