भारतीय सेना

आर्मी डे | जवानों के बलिदान को कभी नहीं भूलेगा देश

भारतीय जवानों की वीरता और पराक्रम किसी से छिपा नहीं है। आज के ही दिन 15 जनवरी 1949 को भारतीय सेना ब्रिटिश थल सेना से पूरी तरह मुक्त हुई थी।

हल्द्वानी: पहाड़ का वीर सपूत कुपवाड़ा में शहीद

उत्तराखंड के वीर यमुना 6 कुमाऊँ रेजिमेंट में सूबेदार के पद पर तैनात थे। जवान की शहादत ने पूरे पहाड़ को शोकाकुल कर दिया है।

कोरोना योद्धाओं को सेना का सलाम; पुष्पवर्षा से जताया आभार

आज भारतीय सेना ने एम्स ऋषिकेश और दून मेडिकल कॉलेज पर फूलों से वर्षा की। सेना ने कोविड अस्पतालों पर फूल वर्षा की और बैंड परफॉरमेंस देकर उनके जज़्बे को सलाम किया।